देश में मौजूद हैं ओमिक्रॉन के सभी सब-वैरिएंट, कोरोना के खतरे के बीच सरकार ने दी यह अहम जानकारी

देशदेश में मौजूद हैं ओमिक्रॉन के सभी सब-वैरिएंट, कोरोना के खतरे के बीच सरकार ने दी यह अहम जानकारी
spot_img
spot_img

चीन में कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण मचे हाहाकार के बीच भारत सरकार के ओमिक्रॉन वैरिएंट के सब वैरिएंट्स के बारे में बड़ी जानकारी दी है। सरकार ने बताया है कि भारत में ओमिक्रॉन वैरिएंट और उसके सब वैरिएंट मौजूद हैं। कोविड पॉजिटिव नमूनों की सेंटिनल सीक्वेंसिंग की जांच में यह सामने आया है। सरकार ने यह भी बताया है कि इस सर्वेक्षण के लिए 324 कोविड पॉजिटिव नमूनों की जांच की गई थी। हालांकि जिन क्षेत्रों में ओमिक्रॉन के इन सब वैरिएंट के बारे में जानकारी मिली है वहां कोरोना के कारण मृत्यु दर या महामारी के प्रसार में वृद्धि की सूचना नहीं मिली है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को बताया कि 29 दिसंबर 2022 और सात जनवरी 2023 के बीच समुदाय से लिए गए 324 कोविड पॉजिटिव नमूनों की ‘सेंटिनल सीक्वेंसिंग’ से पता चला है कि इनमें सभी में ओमिक्रॉन स्वरूपों की मौजूदगी मिली, जिनमें बीए.2 और इसके उप-वंश 2.75, एक्सबीबी (37), बीक्यू.1 और बीक्यू.1.1 (5) तथा अन्य शामिल हैं। राहत भरी बात यह है कि जिन क्षेत्रों में इन स्वरूपों का पता चला है, वहां मृत्यु दर या संक्रमण के मामलों में वृद्धि की सूचना नहीं है।

इसके अलावा एक्सबीबी (11), बीक्यू.1.1 (12) और बीएफ7.4.1 (1) पचास अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के पॉजिटिव नमूनों में पाए गए मुख्य स्वरूप थे, जिनके नमूनों का अब तक जीनोम अनुक्रमण किया गया है। बयान में कहा गया कि गत 29 दिसंबर और सात जनवरी के बीच 324 पॉजिटिव नमूने अनुक्रमण के लिए 22 इंसाकोग प्रयोगशालाओं में भेजे गए, जिनमें सभी में बीए.2 और इसके उप-वंश 2.75, एक्सबीबी (37), बीक्यू.1 और बीक्यू.1.1 (5) जैसे ओमीक्रोन स्वरूपों की मौजूदगी मिली। 

भारत में कोरोना संक्रमण के मामले
भारत के संदर्भ में बात करें तो यहां स्थिति फिलहाल काफी नियंत्रित दिख रही है। संक्रमण की रोकथाम के लिए सरकार ने जांच और बचाव के उपायों को तेज कर दिया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक देश में फिलहाल कोरोना के XBB.1.5, ओमिक्रॉन सब-वैरिएंट BF.7 और XBB वैरिएंट्स के मामले देखे जा रहे हैं, इन तीनों की संक्रामकता दर काफी अधिक है। इनमें से एक को अब तक का सबसे खतरनाक वैरिएंट भी माना जा रहा है।

कौन सा वैरिएंट ज्यादा खतरनाक?
भारत में कोरोना के जिन तीनों वैरिएंट्स के मामले देखे जा रहे हैं, उनकी प्रकृति अधिक संक्रामकता वाली है। हालांकि एक रिपोर्ट में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) में COVID-19 की तकनीकी प्रमुख और महामारी विशेषज्ञ मारिया वैन केरखोव ने बताया कि फिलहाल इन दिनों XBB.1.5 का वैश्विक खतरा बढ़ रहा है। यह ओमिक्रॉन का अब तक का ‘सबसे संक्रामक और खतरनाक रूप’ है। काफी कम समय में यह करीब 30 देशों में फैल गया है। सभी देशों को इस वैरिएंट की संक्रामकता का ध्यान रखते हुए बचाव को लेकर विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। यह वैरिएंट वैश्विक स्तर पर चुनौतीपूर्ण हो सकता है। 

सतर्क रहने की जरूरत
स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं, जिस प्रकार से कई देशों में कोरोना के नए वैरिएंट्स के कारण हालात बिगड़ते देखे गए हैं उसे ध्यान में रखते हुए सभी लोगों को अलर्ट रहने की आवश्यकता है। वैक्सीनेशन हो चुका है फिर भी लगातार सावधानी बरतें क्योंकि नए वैरिएंट्स प्रतिरक्षा को चकमा देने में सफल हो रहे हैं।

कोविड मामलों की बढ़ती संख्या और नए वैरिएंट के डर के बीच, कोविड-उपयुक्त व्यवहार का पालन करते रहना सबसे जरूरी है। मास्क पहनना, सामाजिक दूरी बनाए रखना, बार-बार हाथ धोना, ये सभी वायरस के संक्रमण से बचाने में मदद करेंगे। बचाव को उपायों में बिल्कुल लापरवाही न बरतें।

Source

Check out our other content

Meet Our Team

Dharmendra Singh

Editor in Chief

Gunjan Saha

Desk Head

Most Popular Articles