बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देना सुनिश्चित करें

झारखण्डबच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देना सुनिश्चित करें
spot_img
spot_img

पाकुड़ । उपायुक्त वरुण रंजन ने सोमवार को शिक्षा विभाग से जुड़े विभिन्न पदाधिकारियों के साथ बैठक कर शिक्षा विभाग के कार्यों की समीक्षा की।

समाहरणालय के सभाकक्ष में आयोजित इस बैठक में उपायुक्त ने बच्चों का शत प्रतिशत नामांकन कराने को लेकर, ई- विद्या वाहिनी में शिक्षकों एवं छात्रों की उपस्थिति, छात्रवृत्ति, पोशाक, एमडीएम, पाठ्य पुस्तक आदि की समीक्षा करते हुए कई निर्देश दिए।

वहीं जिला स्तर पर छात्रवृत्ति योजना के तहत किए जा रहे कार्यो की अद्यतन स्थिति से अवगत हुए। उपायुक्त ने शिक्षा विभाग के सभी पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि शत प्रतिशत बच्चों का नामांकन विद्यालय में करवाना सुनिश्चित करें।

उपायुक्त ने 3 से 18 आयु वर्ग के बच्चों की गणना के बारे में कहा कि एक माह बीत जाने के बाद भी बच्चों की गणना का कार्य पूर्ण नहीं किया गया है। साथ ही विद्यालय से बाहर (आउट ऑफ स्कूल) बच्चों की गणना भी पूर्णतः त्रुटिपूर्ण है। इससे प्रतीत होता है कि प्रखंड स्तर पर इसकी समीक्षा नहीं होती है।

उपायुक्त द्वारा निर्देशित किया गया कि जिन शिक्षकों द्वारा बाल गणना का कार्य सही ढंग से नहीं किया गया है। उन्हें चिन्हित कर कार्रवाई करते हुए एक सप्ताह के अंदर कार्य को पूर्ण कराएं।

उपायुक्त ने कहा किसी भी विद्यालय के शिक्षक बगैर आवेदन दिए हुए विद्यालय में अनुपस्थित पाएं जाएंगे तो वैसे शिक्षक पर सख्त कार्रवाई करना सुनिश्चित करें।

ई- विद्यावाहिनी पोर्टल पर ही अटेंडेंस बनाएं

वहीं ई-विद्यावाहिनी पर शिक्षकों और छात्रों की उपस्थिति का उपायुक्त ने प्रखंड वार समीक्षा की।

उपायुक्त ने ई- विद्या वाहिनी पर छात्रों और शिक्षकों की उपस्थिति सुनिश्चित करने को लेकर पदाधिकारियों को सख्त दिशा निर्देश दिए हैं।

उपायुक्त वरुण रंजन ने समीक्षा बैठक में मौजूद जिले के सभी शिक्षा पदाधिकारियों से कहा कि जिले का विकास तभी हो सकता है जब शिक्षा का दर बढ़ेगा। शिक्षा का दर तभी बढ़ सकता है, जब शिक्षा विभाग से जुड़े पदाधिकारी अपनी जिम्मेदारियों के साथ काम करेंगे और स्कूलों और शिक्षा केंद्रों पर आने वाले बच्चों को शिक्षा के प्रति जागृत करेंगे।
जिले में संचालित कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय के वार्डेन के द्वारा प्रजेंटेशन के माध्यम से कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में संचालित सभी गतिविधियों से उपायुक्त को अवगत कराया गया।

उपायुक्त ने वार्डेन को अपने विद्यालय में संबंधित आवश्यकता एवं समस्याओं का आंकलन करते हुए प्रतिवेदन उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया।

इसके अलावा उपायुक्त ने नव भारत साक्षरता कार्यक्रम का समीक्षात्मक बैठक की। जिसमें नव भारत साक्षरता कार्यक्रम के सभी सदस्य उपस्थित थे।

बैठक में 15 वर्ष के आयु वर्ग के कुल 12 हजार असाक्षरों को साक्षरता अभियान के अंतर्गत चिन्हित किया गया है। जिसे भी० टी० के माध्यम से साक्षर करने का निर्णय लिया गया तथा इस मद में आवंटन की मांग राज्य सरकार से करने का निर्णय लिया गया।

बैठक में जिला शिक्षा पदाधिकारी रजनी देवी, जिला शिक्षा अधीक्षक मुकुल राज, एरिया ऑफिसर जुही रानी, एडीपीओ जयेंद्र मिश्रा, सभी प्रखंडों के बीईईओ समेत अन्य उपस्थित थे।

Check out our other content

Meet Our Team

Dharmendra Singh

Editor in Chief

Gunjan Saha

Desk Head

Most Popular Articles